viral fever के इलाज के लिए 5 बेहतरीन घरेलू उपाय: Top easy tips viral fever treatment in Hindi

अक्सर हमें या हमारे परिवार में किसी को बुखार viral fever  होता है तो सबसे पहले हम क्रोसीन कोम्बिफ्लैम या कोई और दवा ले कर खा लेते हैं. उससे हमें तत्काल आराम तो मिल जाता है लेकिन उसके साइड इफेक्ट्स भी बहुत होते है। वो टेबलेट हमारे लीवर और किडनी को काफी नुक्सान पहुंचाते हैं। बुखार  viral fever  का इलाज उसके लक्षण के आधार पर ही करना चाहिए। 

बुखारके प्रकार: types of viral Fever:

बुखार कई तरह के होते हैं जैसे –

viral fever
  • वायरल फीवर viral fever 
  • दिमागी बुखार
  • टाइफाइड
  • अंदरूनी बुखार
  • मलेरिया

लेकिन ज़्यादातर हमें वायरल फीवर viral fiver ही होता है जिसकी वजह भी हम खुद होते है।

बुखार होने के कारण viral fever 

  • फ्रिज़ का ठंडा पानी पीने से
  • बे-वक़्त नहाने से
  • किसी वायरल फीवर वाले किसी के संपर्क में आने से
  • इम्यून सिस्टम के कमज़ोरहोने से
  • बदलते हुए मौसम केकारण अथवा मौसम में तेजी से हो रहे बदलाव के कारण

आज हम वायरल फीवर viral fever के घरेलू उपाय के बारे में जानेंगे

वायरल फीवर (vviral fever) से बचने के घरेलू उपाय

वायरल फीवर viral fever में हमारे शरीर तापमान 100 डिग्री सेल्सियस  से 104 डिग्रीसेल्सियस   तक हो जाता है। जो एक मानव शरीर के लिए काफी ज्यादा तापमान होता है। इस कारण हमें कमज़ोरी और सर दर्द  की समस्या सबसे पहले होने लगती है।  बच्चो में वायरल फीवर  viral fever   में  उल्टी, दस्त, खांसी, सर्दी लगना जैसी समस्या होने लगती है, लेकिन फिर भी हमें एक बार डॉक्टर को दिखा लेना चाहिए।

वायरल फीवर बुखार viral fever के 5 आसान घरेलू उपाय easy tips for viralfiver treatment in hindi

1 पहला उपाय-

तिल का तेल      : 1 टेबल स्पून

घी               : 1 टेबल स्पून

लहसुन की कलियाँ : 5 या 6  

नमक             : चुटकी भर (स्वाद अनुसार)

घी और तिल के तेल में 5 से 6 लहसुन की कलियाँ डाल दें और थोड़ा नमक मिला कर गर्म कर ले और हल्का ठण्डा कर के इसे बुखार के मरीज़ खिला दें। यें घरेलू उपाय किसी भी तरह के बुखार में कारगर साबित होगा।

2दूसरा उपाय:

अगर बुखार में शरीर ज्यादा गर्म हो जाए तो मरीज के माथे पर ठंडे पानी की पट्टी रखते रहे। इससे भी मरीज़ को काफी फायदा होगा। ध्यान रखें कि समय समय पर शरीर का तापमान भी जांचते रहें।

3 तीसरा उपाय:

मुलेठी   : 20 ग्राम

शहद    : 1 टी स्पून

तुलसी  : 5 पत्ते

मिश्री   :10 दानें

शहद, मुलेठी. मिश्री और तुलसी के पत्तों का काढ़ा बना कर बुखार के मरीज़ को पिला दें। इससे भी बुखार में जल्दी फायदा मिल जायगा।

4 चौथा उपाय:

सिरका    :1 टेबल स्पून

गर्म पानी : 1 कप

आलू     : 1 कटा हुआ

एक कप गर्म पानी में एक चम्मच सिरका डाल कर घोल बना लें और इसमें एक कटे हुए आलू के टुकड़े को डाल कर मरीज़ के माथे पर लगाएं। बुखार तेजी से उतर जाएगा।

5 पांचवा उपाय:

साबूदाना, दूध, मिश्री, नारियल पानी, मौसमी का जूस बुखार में मरीज़ के लिए काफी फायदेमंद होता है..

मरीज़ को हल्का खाना ही दें जैसे- साबूदाने की खीर। क्योंकि ऐसे में पाचन शक्ति कमजोर होने लगती है, तो कोशिश करें कि वों ही खाना दें, जिसें मरीज आसानी से पचा सकें और साथ ही ताकत भी मिलें।

रेगुलर चेकअप कराना भी न भूलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Categories

Gharelu Upay

October 2019
M T W T F S S
« Sep    
 123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031  
Copyright © 2019 Gharelu Upay| All Rights Reserved.